रिवार्ड प्वाइंट देने का प्रलोभन दे क्रेडिट कार्ड के आखिरी 4 अंक पुछकर ठगी की वारदात को अंजाम देनें वाले गिरोह के दो सदस्य काबू

पकड़े गए आरोपितों की पहचान साहिल निवासी उदेशीपुर व विशाल निवासी खेड़ी तगा सोनीपत के रूप मे हुई

भूप एक्सप्रेस।
पानीपत। थाना किला प्रभारी इंस्पेक्टर महिपाल ने बताया काबुली बाग निवासी खुर्शीद ने उसके साथ हुई 49578 रूपये की धोखाधड़ी बारे 8 जूलाई को थाना किला मे शिकायत देकर बताया था की वह मेहनत मजदूरी का काम करता है। उसने एजेंट के माध्यम से एसबीआई बैंक का क्रेडिट कार्ड बनवाया था। 7 जूलाई की दोपहर करीब पौने 1 बजैं उसके फोन पर एक अज्ञात नंबर से कॉल आई। फोन करने वाले युवक ने क्रेटीड कार्ड के रिवार्ड प्वाइंट देने की बात कहते हुए कार्ड के आखिरी 4 अंक (ईकोम) लिखकर मैसेज करने के लिए कहा। युवक के कहे अनुसार मैसेज किया तो उसके क्रेडिट कार्ड से दो बार मे 49578 रूपये कट गए।

इंस्पेक्टर महिपाल ने बताया खुर्शीद की शिकायत पर अज्ञात आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी की विभिन्न धारोओं के तहत मुकदमा दर्ज कर थाना किला पुलिस की टीम विभिन्न पहलूओं पर गहनता से छानबीन करते हुए आरोपितों की धरपकड़ के लिए प्रयासरत थी। पुलिस टीम ने बैंक से उस खाते की जानकारी लेकर जिसमे पैसे ट्रांसफर हुए थे, खाते के माध्यम से आरोपितों के ठिकानों का पता लगाते हुए दो आरोपितों को मंगलवार सायं गन्नौर से काबू कर गहनता से पुछताछ की तो आरोपितों ने वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा । आरोपितों की पहचान साहिल पुत्र जगमिन्द्र निवासी उदेशीपुर व विशाल पुत्र धर्मपाल निवासी खेड़ी तगा सोनीपत के रूप मे हुई। पुलिस पुछताछ मे आरोपितो से खुलाशा हुआ की आरोपित साहिल ने क्रेडिट कार्ड से धोखाधड़ी करते हुए 49578 रूपये मैजिकब्रिक्स जो प्रापर्टी से संबधित साईट उस पर ट्रांसफर करने के बाद पैसों को विशाल के खाते मे ट्रांसफर कर निकाला था। इसके लिए उसने विशाल को पैसे दिये थे।

इंस्पेक्टर महिपाल ने बताया गिरफ्तार आरोपितों को आज माननीय न्यायालय मे पेश कर गहनता से पुछताछ करने व ठगी गई नगदी बरामद करने के लिए आरोपित साहिल को 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया वही आरोपित विशाल को न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया।