फैक्टरी से घर लोट रहे युवक से लूट करने के मामले में फरार चल रहे दो और आरोपितों को काबू किया

मामले में एक आरोपित को पहले ही गिरफ्तार कर लूटा गया मोबाइल फोन बरामद होने पर आरोपित को जेल भेजा जा चुका है

भूप एक्सप्रेस।
सनौली/पानीपत। थाना सनौली प्रभारी सब-इंस्पेक्टर रामनिवास ने बताया दिसम्बर में पानीपत फैक्टरी से घर लोट रहे यूपी के कैराना शामली के गांव मोई निवासी श्रर्मिक अंकुर पुत्र सुखपाल से सनौली के पास लूट करने की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपित अजीत पुत्र मामचंद व सन्नी पुत्र सतपाल निवासी अधमी को काबू करने के लिए थाना सनोली पुलिस की टीम आरोपितो के संभावित ठिकानो पर दंबिस दे रही थी। पुलिस टीम ने रविवार को गुप्त सूचना के आधार पर दंबिस देते हुए आरोपित अजीत व सन्नी को काबू करने मे कामयाबी हासिल की। दोनों आरोपितो ने लूटी गई नगदी में से कुछ पैसे खाने पीने में खर्च कर दिए बची 1हजार रूपए की नगदी बरामद कर दोनो आरोपित को आज माननीय न्यायालय में पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया।

सब-इंस्पेक्टर रामनिवास ने बताया सनौली पुलिस ने दिसम्बर में उक्त वारदात के महज 24 घंटे के दौरान की एक आरोपित तस्वीर पुत्र निजाम निवासी अधमी पानीपत को गिरफ्तार कर आरोपित के कब्जे से लूटा गया मोबाइल फोन बरामद कर गहनता से पुछताछ की गई थी। पुछताछ के दौरान आरोपित तस्वीर ने दोस्त अजीत व सन्नी निवासी अधमी के साथ मिलकर लूट की उक्त वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा था।

अंकुर पुत्र सुखपाल निवासी मोई कैराना शामली यूपी ने उसके साथ हुई लूट की वारदात बारे 9दिसम्बर को थाना सनौली में शिकायत देकर बताया बताया था की वह पानीपत में एक फैक्टरी में काम करता है। 8/9 दिसम्बर की साय फैक्टरी से वापिस बाइक पर सवार होकर घर लोट रहा था। सनौली खुर्द बाइपास पहुंचने पर उसके पास किसी का फोन आ गया। वह बाइक को साईड में रोककर फोन पर बात करने लगा तो इसी दौरान दो बाइकों पर 3/4 अज्ञात युवक सवार होकर आए। सभी उसके साथ गाली गलौच व मारपीट करने लगे। आरोपित उससे मोबाइल फोन, बैग व पर्स छिनकर जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। पर्स में 4800 रूपये, आधार कार्ड व एटीएम कार्ड था और बैग में आफिस के कागजात थे। वारदात बारे अंकुर की शिकायत पर अज्ञात आरोपितों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत तुरंत थाना सनौली में मुकदमा दर्ज कर आरोपितो की धरपकड़ शुरू कर दी थी।