बुधवार को देर रात तक जारी आंकड़ों में 75 हजार से अधिक संक्रमित मिले, लाॅकडाउन की राह पर देश?

अब तक प्राप्त आंकड़ों के अनुसार देश में सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र से आये हैं जहां 26,538 मामले सामने आये हैं, दूसरे नंबर पर बंगाल है जहां आज 14,022 संक्रमित मिले हैं.

भूप एक्सप्रेस।
नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का आंकड़ा अबतक राज्यों द्वारा जारी किये गये आंकड़ों के अनुसार 75 हजार के पार चला गया है. अभी कई राज्यों का आंकड़ा शेष है और उन सारे मामलों को मिलाने के बाद निश्चित तौर पर केस 80 हजार के पार चले जायेंगे.

अबतक प्राप्त आंकड़ों के अनुसार देश में सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र से आये हैं जहां 26,538 मामले सामने आये हैं, दूसरे नंबर पर बंगाल है जहां आज 14,022 संक्रमित मिले हैं. तीसरे नंबर पर दिल्ली है जहां 10,665 मामले सामने आये हैं.

यह स्थिति हमें एक बार फिर कोरोना की दूसरी लहर की ओर ले जा रहे हैं जब मामले एक-एक लाख तक प्रतिदिन आते थे. अभी सरकार के लिए चिंता इस बात की है कि कोरोना वायरस का आर वैल्यू भी काफी बढ़ा हुआ है और यह 2.69 तक पहुंच गया है. इसका अर्थ यह है कि अगर सौ संक्रमित व्यक्ति होंगे तो वे 269 को संक्रमित कर देंगे, जो बहुत ही खतरनाक स्थिति है.

दिल्ली में एक से तीन जनवरी के बीच जीनोम सिक्वेंसिंग की रिपोर्ट आयी जिसमें से 65 प्रतिशत नमूनों में कोरोना वायरस के ओमिक्राॅ वैरिएंट के मामलों की पुष्टि हुई है. वहीं, एक से 31 दिसंबर तक 28 प्रतिशत नमूनों में ओमिक्राॅन की मौजूदगी मिली.

आधिकारिक आंकड़ों से यह जानकारी मिली. साल के शुरुआती तीन दिन में कुल 72 नमूनों की रिपोर्ट में से 47 में कोरोना वायरस के ओमिक्रोन स्वरूप का पता चला जबकि 20 नमूनों में डेल्टा स्वरूप और इसके उप-समूह के संक्रमण की पुष्टि हुई. केवल सात प्रतिशत नमूने में अन्य स्वरूपों की मौजूदगी मिली.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अभी कोरोना संक्रमण दर पांच प्रतिशत है. ओमिक्राॅन से बहुत ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि इसके लक्षण बहुत गंभीर नहीं हैं, लेकिन यह भी सच है कि इसके प्रति लापरवाही बरतना भी उचित नहीं है. विश्व में अबतक 108 लोगों की कोरोना के ओमिक्राॅन वैरिएंट से मौत हुई है. देश में अबतक एक व्यक्ति के बारे में यह कहा जा सकता है कि उसकी मौत ओमिक्राॅन से हुई है।