गुमानीवाला मार्केट बाईपास ऋषिकेश में गंगा दशहरे के अवसर पर महिलाओं ने पानी की छबील लगाकर राहगीरों की बुझाई प्यास

भूप एक्सप्रेस।
ऋषिकेश। वीरवार को गंगा दशहरे के अवसर पर गुमानीवाल मार्केट में रोड किनारे महिलाओं ने मीठे पानी की छबील लगा कर राहगीरों की प्यास बुझाने का नेक व पुण्य का कार्य किया। इस दौरान पानी की सेवा करते हुए कमला जोशी, अनिता बहुगुणा, डॉ. कविता, विजय गुमानी, दिव्यांश, मकौली भट्ट, सरोजनी आदि ने बताया कि वें हर वर्ष सामूहिक रूप से इकट्ठा होकर गंगा दशहरे के पावन अवसर पर निस्वार्थ भाव से मीठे पानी की प्याऊ या छबील लगाती हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा करने से उनकी आत्मा को एक अनूठी संतुष्टि मिलती है, जो उनको जीवन में नेक व पुण्य के कार्य करने के लिए प्रेरित करती रहती है। इस दौरान तपती दोपहर में प्यासे राहगीरों ने अपने वाहन रोक कर अपनी प्यास बुझाई और निस्वार्थ दी भाव से मीठा पानी पिलाने की सेवा करने वाली महिलाओं एवं बालिकाओं को ढेर सारी

दुआएं दी। पानीपत से कमलेश, नरेश रुहल, राजू जांगड़ा, सुरेंद्र रुहल, अंशु, निर्मला देवी, जींद से सुनीता, अनिरूद्ध, नीलम आदि ने कहा की ज्येष्ठ के माह में गंगा दशहरे पर इतनी भयंकर गर्मी में पानी की छबील लगाकर लोगों को गाड़ी रुकवा – रुकवा कर मीठा पानी पिलाना वास्तव में बहुत बड़ा पुण्य का कार्य है। सुरेंद्र रुहल ने कहा कि इस तरह के कार्य करते हुए हमने पुरुष वर्ग को तो खूब देखा लेकिन महिला वर्ग में इतने उत्साह से निस्वार्थ करते हुऐ ऋषिकेश में गढ़वाली महिलाओं को पहली बार देखा है। ऐसे पुण्य के कार्य करने से ही मानव कल्याण संभव है और जीवन में निस्वार्थ भाव से नेक कार्य करने की शक्ति मिलती है।