दुष्कर्म के केस में फंसाने की धमकी देकर मांगी रिश्वत, महिला थाने के SI और महिला ASI गिरफ्तार

विजिलेंस ने पकड़े दोनों आरोपी

भूप एक्सप्रेस न्यूज।

यमुनानगर। छछरौली के गांव वाले लेदा खास निवासी सुखराम ने बताया कि उसके बेटे की शादी कुछ साल पहले यमुनानगर की एक लड़की के साथ हुई थी। शादी के बाद दोनों में अनबन रहने लगी। जिस पर उसकी पुत्रवधू ने उसके बेटे और अन्य परिजनों के खिलाफ जून माह में महिला थाना में मारपीट, दुष्कर्म व अन्य धाराओं में केस दर्ज कराया था।

विजिलेंस ने पकड़े दोनों आरोपी

दुष्कर्म के केस में एक व्यक्ति को फंसा कर जेल भेजने की धमकी देकर उससे रिश्वत मांगने के आरोप में विजिलेंस ने गुरुवार को महिला थाना के सब इंस्पेक्टर व एक महिला एसआई को पकड़ लिया। विजिलेंस दोनों को अपने साथ राज्य चौकसी ब्यूरो के कार्यालय में लेकर गई। जहां पर उनसे पूछताछ की जा रही है। दोनों को कितने रुपये के साथ पकड़ा है और मामले का खुलासा विजिलेंस करेगी। रिश्वत की रकम करीब 10 हजार रुपये बताई जा रही है।

छछरौली के गांव वाले लेदा खास निवासी सुखराम ने बताया कि उसके बेटे की शादी कुछ साल पहले यमुनानगर की एक लड़की के साथ हुई थी। शादी के बाद दोनों में अनबन रहने लगी। जिस पर उसकी पुत्रवधू ने उसके बेटे और अन्य परिजनों के खिलाफ जून माह में महिला थाना में मारपीट, दुष्कर्म व अन्य धाराओं में केस दर्ज कराया था। केस दर्ज होने से वह बहुत परेशान थे क्योंकि पुत्रवधू ने उनके खिलाफ झूठा केस दर्ज कराया था। इसी केस के सिलसिले में वह कई दिनों से महिला थाना के चक्कर काट रहा था। सुखराम का आरोप है कि इस मामले की जांच कर रहे महिला थाने के सब इंस्पेक्टर और महिला एएसआई उसे धमकी दे रहे थे कि वह उसे भी केस में फंसा कर जेल भेज देंगे। इसके लिए दोनों ने उससे पैसों की मांग की, लेकिन गरीब परिवार से होने के कारण वह उन्हें पैसे देने में असमर्थ था। उसने इसकी शिकायत विजिलेंस को कर दी। पीड़ित से यह रुपये महिला थाना के शौचालय में लिए गए। तभी विजिलेंस ने दबिश देकर दोनों को पकड़ लिया। फिलहाल विजिलेंस की कार्रवाई चल रही है।