28.93 लाख बीपीएल परिवारों को मिलेंगे नए पीले राशन कार्ड, सीएम खट्टर ऑनलाइन करेंगे जारी

भूप एक्सप्रेस न्यूज।

चंडीगढ़ (नंदपाल)। प्रदेश में पीले राशन कार्ड बनाने के लिए बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार होता था। इन कार्ड को लेकर राजनीति भी चरम पर रहती थी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इसे खत्म करने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी का सहारा लिया।

हरियाणा सरकार 28.93 लाख बीपीएल परिवारों को नव वर्ष पर नए पीले राशन कार्ड का तोहफा देने जा रही है। ये कार्ड ऑनलाइन जारी किए जाएंगे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल एक क्लिक के जरिये इन्हें वितरित करेंगे। बीपीएल कार्ड के लिए न्यूनतम वार्षिक आय 1.20 लाख रुपये से बढ़ाकर 1.80 लाख रुपये करने से लाभार्थी परिवारों की संख्या 11.50 लाख से बढ़कर 28.93 लाख हो गई है।

प्रदेश में पीले राशन कार्ड बनाने के लिए बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार होता था। इन कार्ड को लेकर राजनीति भी चरम पर रहती थी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इसे खत्म करने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी का सहारा लिया। अब गरीब परिवारों को इन कार्ड के लिए कहीं चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। ये उन्हें सीधे घर पर ही मिलेंगे।

मुख्यमंत्री ने पात्र लोगों को लाभ देने के लिए पिछली सरकारों के बीपीएल सर्वे रद्द करवाकर नए सिरे से सर्वेक्षण करवाया है। नागरिक सूचना संसाधन विभाग ने बीपीएल परिवारों के आंकड़ों का मिलान खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले महकमे से करवाया है। आंकड़ों को और अधिक सत्यापित करने के लिए परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) के डाटा से भी मिलान किया गया है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा में अब नया राशन कार्ड ऑनलाइन प्रणाली शुरू की है। अब कोई भी व्यक्ति सरल पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के पात्र परिवारों को अंत्योदय अन्न योजना परिवार व प्राथमिक परिवार श्रेणियों में बांटा है। अंत्योदय परिवारों को 35 किलोग्राम और बीपीएल, ओपीएच परिवारों को पांच किलोग्राम अनाज दो रुपये प्रति किलोग्राम की दर से दे रहे हैं।

कोरोना के समय शुरू प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मुफ्त खाद्यान्न वितरण योजना इस महीने के अंत तक जारी रहेगी। अंत्योदय आहार योजना के अंतर्गत बीपीएल, एएवाई परिवारों को फोर्टिफाइड आटे का वितरण यमुनानगर, अंबाला, कुरुक्षेत्र, करनाल और पंचकूला जिलों में किया जा रहा है।