गांव ऊझा में सरपंच रेनू रावल और उनके पति नरेश रावल ने विकास कार्यों को लेकर कसी कमर

कहा : पंचायत के सभी सदस्यों को साथ लेकर, समस्यायों को करेंगे जड़ से खत्म

भूप एक्सप्रेस न्यूज।

पानीपत, 17 दिसम्बर ( नंदपाल)। जिला पानीपत के बापौली ब्लॉक के गांव ऊझा की नवयुक्त सरपंच रेनू रावल और उनके पति प्रमुख समाजसेवी एडवोकेट नरेश रावल ने गांव में विकास कार्य करने के लिए कमर कस ली है। इस बात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है, जब शनिवार को सफाई कर्मचारियों (कुलदीप, हरिकिशन और जोगिंदर) को साथ लेकर नाले। को साफ करवाते नजर आए। इस दौरान सरपंच पति नरेश रावल ने बताया कि गांव में बहुत सारी समस्याएं ऐसी है जिनका समाधान करवाना बेहद अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि आज भी गांव के कुछ लोग उनके पास आए थे, जिन्होंने बताया कि सरकारी स्कूल से लेकर उझा गेट तक बने हुए नाले की सफाई नहीं हो रही है जिसकी वजह से नाला ओवरफ्लो हो कर गन्दा पानी सड़क पर बह रहा है।

रावल के संज्ञान में यह समस्या आते ही उन्होंने तत्काल सफाई कर्मचारियों को बुलाया और नाले की सफाई करवानी आरम्भ करवा दी। इसी बीच पास में खड़े समाजसेवी राकेश पांचाल ने सरपंच रेनू रावल और उनके पति नरेश रावल की कार्यशैली के बारे में कहा कि गांव में यह चर्चा है कि रावल गांव में रिकॉर्ड तोड़ विकास कार्य कराएगा। पांचाल ने एक कहावत दोहराते हुए कहा कि “पूत के पैर पालने में दिखाई दे जाते हैं।” उन्होंने कहा कि जिस सरपंच ने अभी पूरी तरह से चार्ज मिला भी ना हो, ओर वह अभी से इतनी निष्ठा से गांव के कार्य करने लगा है तो ये निश्चित रूप से अंदाजा लगाया जा सकता कि आवश्य ही यह पंचायत गांव में रिकॉर्ड तोड़ विकास कार्य करेगी।

सरपंच पति नरेश रावल ने कहा कि पूरी पंचायत को साथ लेकर और गांव का सहयोग लेकर गांव में व्याप्त समस्याओं को जड़ से खत्म करने का प्रयास करेंगे।