भूप एक्सप्रेस न्यूज।

पानीपत, 19 दिसंबर । हरियाणा में पानीपत शहर के नूरवाला में 6 साल की बच्ची की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। बच्ची सुबह दूध पीकर सोई थी, जिसके बाद उसने दम तोड़ दिया।

घटना का खुलासा उस वक्त हुआ, जब दोपहर को काम से खाना खाने लौटे पिता ने उसे उठाना चाहा तो वह नहीं उठी। किसी भी प्रकार की हरकत न होने के चलते वह उसे उठाकर अस्पताल लेकर गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

विसरा जांच के लिए सैंपल भेजा मधुबन

बच्ची की मौत के असल कारणों को जानने के लिए सिविल अस्पताल ले जाया गया। जहां उसका पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों के हवाले कर दिया गया है। हालांकि यहां भी डॉक्टरों ने मौत के कारणों को जानने के लिए विसरा सैंपल लेकर मधुबन लैब भेज दिया है। डॉक्टरों के मुताबिक, बच्ची के मौत के प्रारंभिक कारण फूड पॉइजनिंग हो सकती है।

कुलदीप सैनी ने बताया कि वह मोतीराम कॉलोनी, नूरवाला का रहने वाला है। वह पेशे से सिलाई का काम करता है। उसकी 9 साल पहले प्रियंका के साथ शादी हुई थी। उनकी 6 साल की इकलौती बेटी अवनी सैनी थी।

रविवार सुबह 11 बजे अवनी नहाकर, खाना खाकर एवं दूध पीकर सो गई थी। दोपहर करीब 1:30 बजे जब वह दुकान से घर पर खाना खाने आया तो उसने पत्नी से पूछा कि अवनी कब से सोई हुई है। मां ने बताया कि करीब ढाई घंटे से सो रही है।

सिर को सहलाते हुए उठा रहा था पिता

इसके बाद पिता ने कहा कि इसे अब जगा देते हैं, क्योंकि फिर रात को देर तक सोती नहीं है। उठकर कुछ खा लेगी और खेल लेगी। इतना कहने के बाद पिता उसे उठाने उसके पास गए। पिता ने बेटी को सिर पर हाथ लगाकर सहलाते हुए अवनी को उठाने के लिए आवाज लगाई।

दो बार आवाज लगाने के बाद भी अवनी में कोई हरकत नहीं हुई। जिसके बाद पिता ने जोर से हिलाया, मगर बच्ची अचेत थी। नाक के पास हाथ लगाया तो सांस भी नहीं थी। पिता आनन-फानन में बच्ची को उठाकर नजदीक ही दो-तीन निजी अस्पताल ले गया। मगर, वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पिता ने बताया कि बच्ची को सुलाने से पहले गाय का दूध पिलाया था।