एडवोकेट खोवाल ने राहुल गांधी के समक्ष उठाए प्रदेश के ज्वलंत मुद्दे

भाजपा की विघटनकारी नीतियों का जवाब देगी भारत जोड़ो यात्रा-एडवोकेट खोवाल

भूप एक्सप्रेस।

हिसार, 25 दिसंबर राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान हरियाणा कांग्रेस लीगल डिपार्टमेंट के प्रदेश अध्यक्ष एवं पीसीसी डेलीगेट लाल बहादुर खोवाल ने राहुल गांधी के साथ कदम से कदम मिलाकर समाज में जरूरतमंद, वंचित, शोषित, गरीब व पिछड़े वर्गों की समस्याओं पर चर्चा की। राहुल गांधी ने उनके सुझाए मुद्दों को गंभीरता से लेते हुए इन वर्गों की पैरवी के लिए कड़े कदम उठाने की बात कही।

भारत जोड़ो यात्रा के 108 दिन पूरे होने पर यात्रा से लौट कर एडवोकेट खोवाल ने बताया कि हरियाणा में तीन दिन की पैदल यात्रा में राहुल गांधी ने प्रदेश के 70 हजार से भी अधिक लोगों के साथ संवाद किया। उन्होंने राहुल गांधी के समक्ष क्रीमिलेयर जैसे मुद्दों को भी उठाया। राहुल गांधी ने उनके सुझावों की सराहना की। वे इस तरह से यात्रा के दौरान सामाजिक कार्यकर्ताओं से सुझाव लेकर उन्हें क्रियान्वित करने में पूरी गंभीरता दिखा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के अपनत्व के कारण लोग उनके कायल होते नजर आए और कांग्रेस पार्टी को अपनी ओर से हर भविष्य में हर संभव योगदान देने का वचन देते दिखाई दिए। लोगों की अलग समस्याओं को प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर प्राथमिकता के आधार पर दूर करने का आश्वासन भी राहुल गांधी ने दिया।

बीजेपी के प्रोपगंडों का भारी भीड़ से दिया जवाब

एडवोकेट खोवाल ने बताया कि भाजपा ने राहुल गांधी की इस भारत जोड़ो यात्रा को रोकने के लिए कई प्रोपगंडे रचे। कहीं पर यात्रा के दौरान सड़कों की बदहाली तो कभी गांवों की बिजली आपूर्ति तक बाधित की गई। वहीं अब कोरोना का बहाना कर इस यात्रा को रोकने की कोशिश की गई, लेकिन लोगों की भारी भीड़ ने भाजपा के सरकारी प्रोपगंडों का मुंहतोड़ जवाब दिया। इस यात्रा में उमड़े हुजुम से साबित हो गया है कि आने वाला समय कांग्रेस का है और प्रदेश के लोग भाजपा की भय व भ्रष्टाचार की नीतियों से पूरी तरह से तंग है।

एडवोकेट खोवाल पहले भी यात्रा में हो चुके हैं शामिल

विदित रहे कि खोवाल इससे पूर्व भी भारत जोड़ो यात्रा में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव छत्तीसगढ़ की प्रभारी तथा पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा के नेतृत्व में कन्याकुमारी, तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक तथा आंध्रप्रदेश में भी भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हो चुके हैं। उन्होंने विश्वास जताया कि यह भारत जोड़ो यात्रा भाजपा की तोड़ने की नीतियों का मुंहतोड़ जवाब देगी और पूरा देश एकता के साथ हर विघटनकारी नीतियों का करारा जवाब देने में सक्षम होगा।