केंद्रीय विद्यालय टीजीटी भर्ती की ऑनलाईन परीक्षा में पेपर सॉल्व करवाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सरगना सहित पांच आरोपी काबू, 17 लेपटॉप बरामद

भूप एक्सप्रेस।

पानीपत, 5 फरवरी (नंदपाल) । पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन के मार्गदर्शन में कार्रवाई करते हुए सीआईए टू प्रभारी इंस्पेक्टर वारेंद्र व उनकी टीम ने केंद्रीय विद्यालय टीजीटी भर्ती की ऑनलाईन परीक्षा में पेपर सॉल्व करवाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए सरगना सहित पांच आरोपियों को समालखा में टेन स्पोन होटल के कमरे से काबू करने में बड़ी कामयाबी हासिल की हैं। आरोपियों की पहचान मनबीर थींग पुत्र बलविंद्र निवासी सुरजन सिंह अमृतसर पंजाब, कपिल पुत्र अजमेर सिंह निवासी खांडा खेड़ी हिसार, हरिकेश पुत्र रामफल निवासी उमरा हांसी हिसार, आनंद पुत्र शीशपाल निवासी सिवानी भिवानी व प्रदीप पुत्र मूलचंद निवासी चुल्लीकला हिसार के रूप में हुई।

पुलिस अधीक्षक ने लघु सचिवालय के तृतीय तल पर स्थित पुलिस विभाग के सभागार में प्रेसवार्ता कर जानकारी देते हुए

बताया कि प्रारंम्भिक पूछताछ में आरोपियों से खुलासा हुआ आरोपी 10 से 12 लाख रूपए में एक केंडिडेट का पेपर पास करवाते थे। आरोपी मनबीर थींग पंजाब में लैब का काम देखता था। वही आरोपी कपिल हरियाणा में केंडिडेट व सॉल्वर को तैयार करता था। आरोपी लैब में होने वाले ऑनलाइन एगजाम को अवैध रिमोट एक्सेस लेकर पेपर पास करवा रहे थे।

आरोपी कपिल इससे पहले पीटीआई की परीक्षा में भी केंडिटेड की सिटींग करवाते हुए पकड़ा जा चुका

आरोपी कपिल रेलवे में कलर्क के पद पर तैनात है और वर्तमान में जीन्द में ड्यूटीरत था। वर्ष 2020 में आयोजित हुई पीटीआई की परीक्षा में भी आरोपी कपिल केंडिटेड की सिटींग करवाते हुए पकड़ा जा चुका है। इस संबंध में आरोपी के खिलाफ हिसार में मुकदमा दर्ज है। आरोपी कपिल उक्त मामले में मार्च 2021 में जेल से बेल पर बाहर आया था।

पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने बताया कि गहनता से पूछताछ करने व गिरोह में संलिप्त अन्य आरोपियों के ठिकानों का पता लगा काबू करने के लिए पुलिस टीम ने गिरफ्तार पांचो आरोपियों को आज माननीय न्यायालय में पेश कर 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया।

सीआईए टू की टीम को मंगलवार को गुप्त सूचना मिली थी कि केंद्रीय विद्यालय में टीजीटी के पद हेतु ऑनलाईन पेपर चल रहा है। मनबीर थींग निवासी पंजाब ने अपने साथियों के साथ मिलकर पंजाब के अमृतसर में लैब बना रखी है। मनबीर थींग की लैब में भी आज दोनों शिफ्टों का पेपर चल रहा है। मनबीर थींग ने साथियों के साथ मिलकर पेपल सॉल्व करवाने के लिए विभिन्न परीक्षार्थियों से पैसे लेकर पास करवाने का ठेका ले रखा है। अभी साय 3 बजे से 6 बजे की शिफ्ट का ऑनलाईन पेपर चल रहा है। मनबीर थींग की टीम समालखा स्थित होटल पेन स्पोन में कमरा नंबर 102 किराये पर लेकर पेपर सॉल्व कर रही है। सूचना को पुख्ता मानकर पुलिस टीम ने तुरंत मौके पर दंबिस देकर कमरा नंबर 102 का दरवाजा खटखटा कर खुलवाया तो अंदर पांच लड़के पेपर सॉल्व करने के लिए काफी लेपटॉप चलाए हुए थे। लेपटॉप में ऑनलाईन पेपर चल रहा था। आरोपियों को काबू कर पूछताछ की तो उन्होंने अपनी पहचान मनबीर थींग पुत्र बलविंद्र निवासी सुरजन सिंह अमृतसर पंजाब, कपिल पुत्र अजमेर सिंह निवासी खांडा खेड़ी हिसार, हरिकेश पुत्र रामफल निवासी उमरा हांसी हिसार, आनंद पुत्र शीशपाल निवासी सिवानी भिवानी व प्रदीप पुत्र मूलचंद निवासी चुल्लीकला हिसार के रूप में बताई। पूछताछ में आरोपियों ने बताया की सुबह की शिफ्ट में 4 पेपर सॉल्व कर मनबीर व कपिल को दिए थे। सभी को पेपर सॉल्व करने के लिए कपिल ने बुलाया था। आरोपियों के कब्जे से 17 लेपटॉप, 10 चार्जर, दो माउस, 6 मोबाइल फोन, एक मोबाइल चार्जर व एक बिजली का एक्सटैंसन बोर्ड व एक सफारी गाड़ी बरामद हुई। आरोपियों के खिलाफ थाना समालखा में आईपीसी की धारा 420, 120बी व आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई अमल में लाई गई।