हरियाणा के सरकारी स्कूलों में 25 मार्च से पहले मिलेंगी किताबें, किताबों के अभाव में बच्चो की पढाई नहीं होगी प्रभावित: कवरपाल गुर्जर

भूप एक्सप्रेस।

चंडीगढ (नंदपाल)। इस बार हरियाणा के सरकारी स्कूलों में किताबें 25 मार्च से पहले मिलेंगी। इसके लिए शिक्षा विभाग ने 48 करोड़ रुपए की राशि मंजूर की है। किताब वितरण में किसी प्रकार की लापरवाही न हो इसके लिए डिस्ट्रिक्ट अनुसार शेड्यूल भी शिक्षा विभाग द्वारा जारी कर दिया गया है। शेड्यूल के अनुसार पुस्तकों का वितरण ना होने पर संबंधित एजेंसी को इसके लिए जिम्मेदार माना जाएगा।

हरियाणा के स्कूल शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सरकारी विद्यालयों में आगामी शैक्षणिक सत्र आरंभ होने से पहले पाठ्य पुस्तकों के साथ कार्य पुस्तकों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए।

केंद्र ने दी 48 करोड़ रूपए की मंजूरी 

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के परियोजना अनुमोदन बोर्ड की बैठक में स्कूलों में मुफ्त पाठ्य पुस्तकें मद के तहत 48 करोड़ रुपये की राशि की अप्रूवल दी है। जिसके तहत पहली से 8वीं तक के छात्रों को वर्ष 2023-2024 के दौरान पुस्तकें उपलब्ध करवाई जाएंगी। हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा भी सरकारी विद्यालय में पढ़ने वाले पहली से 8वीं तक के छात्रों को समग्र शिक्षा के तहत मुफ्त पुस्तकें उपलब्ध करवाई जाएंगी।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भी दी अंतिम मंजूरी

हाल ही में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में उच्च अधिकार प्राप्त क्रय समिति की बैठक हुई थी। इस

बैठक में पाठ्य पुस्तकों और कार्य पुस्तकों के मुद्रण व आपूर्ति के लिए एजेंसियों की निविदाओं को अंतिम रूप दिया गया। शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने बताया कि 25 मार्च से पहले- पहले एजेंसियों को पुस्तकों आपूर्ति का कार्य पूरा करना होगा।

शिक्षा विभाग ने जिला अनुसार पुस्तकें वितरण करने का सैड्यूल किया जारी

शिक्षा विभाग ने किताब वितरण का जारी किया शेड्यूल

कक्षा चौथी, पांचवीं एवं तीसरी की पाठ्य पुस्तकें नूंह व सिरसा जिलों में जिला स्तर पर पहुंच गई हैं जिनकी आपूर्ति स्कूल स्तर पर 17 फरवरी से आरंभ कर दी जाएगी। इसी प्रकार 14 फरवरी से 21 फरवरी से नूंह, पलवल, फरीदाबाद व गुरुग्राम, 22 फरवरी से 28 फरवरी तक सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, जींद व कैथल, 1 मार्च से 9 मार्च तक सोनीपत, पानीपत, करनाल, रोहतक, 10 मार्च से 17 मार्च तक कुरुक्षेत्र, पंचकूला, यमुनानगर, अंबाला तथा 18 मार्च से 25 मार्च तक भिवानी, चरखी दादरी, झज्जर, महेंद्रगढ़ व रेवाड़ी जिलों में पुस्तकों की आपूर्ति का कार्यक्रम तैयार किया गया है।