हरियाणा में पेरेंट्स को मिली बड़ी राहत, पहली कक्षा में एडमिशन के लिए उम्र में 6 महीने की छूट, 1 अप्रैल की कट ऑफ डेट बदली

भूप एक्सप्रेस।
रेवाड़ी (धनेश)। बच्चों का पहली कक्षा में एडमिशन के लिए परेशान हरियाणा के पेरेंट्स के लिए राहत भरी बड़ी खबर है। सरकार ने इसमें 6 महीने की छूट दे दी है। पहले इसकी कट ऑफ डेट 1 अप्रैल रखी गई थी। हालांकि पेरेंट्स के मुद्दा उठाने के बाद अब इसे 1 सितंबर कर दिया गया है। शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने शिक्षा निदेशक को इस संबंध में आदेश जारी करने को कहा है।

पेरेंट्स को यह होगा फायदा

दरअसल सरकार ने नई शिक्षा नीति के तहत नए शिक्षण सत्र में पहली कक्षा में एडमिशन के लिए 1 अप्रैल तक बच्चे की उम्र साढ़े 5 साल होनी जरूरी थी। इसमें बड़ी समस्या ये थी कि काफी बच्चे इस तारीख तक साढ़े 5 साल की उम्र पूरी नहीं कर पा रहे थे। ऐसे में उन्हें बच्चे को फिर से के .जी . कक्षा में पढ़ाने की चिंता सता रही थी।

हालांकि शिक्षा मंत्री गुर्जर ने कहा कि अब जो बच्चे 1 सितंबर तक साढ़े 5 साल की उम्र पूरी कर रहे हैं, उन्हें भी पहली कक्षा में एडमिशन दिया जाएगा।

अभिभावक सेवा मंच ने की मुलाकात

पेरेंट्स की परेशानी को देखते हुए अभिभावक सेवा मंच ने मंत्री गुर्जर से मुलाकात की। जिसमें उन्हें इससे हो रही परेशानी के बारे में बताया। मंत्री ने कहा कि पेरेंट्स की परेशानी जायज है। इसलिए यह कदम उठाया गया है।