डीसी वीरेंद्र कुमार दहिया ने किया पानीपत के यमुना तटीय गांवों का दौरा

यमुना बांध पर हो रहे मिट्टी के कटाव को रोकने के लिए बनाई जाएंगी 12 नई ठोकरें

भूप एक्सप्रेस।

बापौली, 7 मई (अलीमेहर) रविवार को डीसी वीरेंद्र कुमार दहिया ने पानीपत के बापौली सनोली में यमुना तट से लगते गांवों का दौरा कर तटीय क्षेत्र में हो रहे मिट्टी कटाव को लेकर स्थिति का जायजा लिया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जायजा लेने के बाद उन्होंने तुरंत प्रभाव से सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता सुरेश सैनी को निर्देश दिए कि गांव खोजकीपुर में 2, हथवाला में 8 और गोयला कला गांव से लगते यमुना तट के बांध पर 2 ठोकरें बनवाने की स्वीकृति तुरंत प्रभाव से ली जाए। इसके लिए फौरी तौर पर कार्यकारी अभियंता मंगलवार को सिंचाई विभाग के प्रधान सचिव से मुलाकात कर उपायुक्त की ओर से अर्धसरकारी अनुरोध पत्र सौंपेंगे। इस मौके पर उनके साथ जिला परिषद चेयरमैन ज्योति प्रदीप शर्मा भी साथ रहीं।

उपायुक्त ने एसडीएम पानीपत वीरेंद्र कुमार ढुल और एसडीएम समालखा अमित कुमार के साथ-साथ अन्य सभी संबंधित अधिकारियों के साथ यमुना तट से लगते गांवों का दौरा कर यमुना नदी में हो रहे कटाव को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस को लेकर ग्रामीण भी उनसे मिले थे उन्होंने सबसे पहले गांव हथवाला में जाकर वहां की स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने कहा यहां दो ठोकरें बनाई जानी अति आवश्यक है। इसके बाद वे गांव बिलासपुर और गोयला कला में भी गए। उन्होंने कार्यकारी अभियंता सुरेश सैनी को निर्देश दिए कि वे सोमवार तक इन सभी ठाकुरों का अस्टीमेट बनाकर मंगलवार को सिंचाई विभाग के प्रधान सचिव से मिले और जिला प्रशासन की ओर से अर्ध सरकारी पत्र उन्हें अनुरोध सहित सौंप कर आएं। वे इस बाबत प्रधान सचिव से फोन के माध्यम से भी अनुरोध करेंगे।

कार्यकारी अभियंता सुरेश सैनी ने उपायुक्त को बताया कि जिला पानीपत का कुल 45 किलोमीटर का क्षेत्र यमुना नदी से लगता है जो कि राणा माजरा से लेकर राकसेड़ा गांव तक का है।

उन्होंने बताया कि आठ ठोकरों की स्वीकृति पहले ही प्राप्त की जा चुकी है जिनमें 2 ठोकरें बिलासपुर और 6 ठोकरें खोजकीपुर में बनाई जाएंगी।

उपायुक्त ने बापौली, सनौली और समालखा क्षेत्र के यमुना के साथ लगते गांवों के लोगों से अपील भी की कि कोई भी व्यक्ति यमुना नदी में स्नान, कपड़े इत्यादि धोने के लिए न जाए इसे जान माल की हानि हो सकती है दूर रहें। इस मौके पर जिला राजस्व अधिकारी राजकुमार भौरिया, जनस्वास्थ्य विभाग के कार्यकारी अभियंता संजय शर्मा सहित विभिन्न संबंधित तहसीलदार व नायब तहसीलदार भी उपस्थित रहे।