एक साल से घर में बंद बहनों का रेस्क्यू, मां-बाप की मौत के बाद कैद हुईं, पुलिस ने छत के रास्ते से घुसकर निकाल सिविल अस्पताल में भर्ती कराया

भूप एक्सप्रेस।

पानीपत, 10 मई (नन्दपाल)। पानीपत में पिछले एक साल से घर में बंद दोनों बहनों का पुलिस ने रेस्क्यू कर लिया है। माता-पिता की मौत के बाद दोनों ने खुद को अंदर रोका हुआ था। आज पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस कर्मचारियों ने खिड़की के जरिए उनसे बातचीत की, लेकिन उन्होंने दरवाजा खोलने से इनकार कर दिया।

काफी समझाने पर दोनों बहनें नहीं मानी तो पुलिस छत के रास्ते घर में दाखिल हुई और दोनों को बाहर निकालकर एंबुलेंस की मदद से सिविल अस्पताल ले जाया गया। यहां चिकित्सक उनका इलाज कर रहे हैं।

काइस्तान मोहल्ला की रहने वाली कमला ने बताया कि वह उन दोनों लड़कियों की ताई लगती है। बड़ी बेटी सोनिया 35 साल की है, जबकि छोटी बेटी चांदनी की उम्र 34 साल है। उन्होंने बताया कि उसके देवर दुलीचंद कि करीब 10 साल पहले कैंसर से मौत हो गई। जबकि उसकी देवरानी शकुंतला का 5 साल पहले हार्ट अटैक से निधन हो गया था।

मां-बाप की मौत के बाद दोनों बेटियां एक निजी कंपनी में काम करती थीं। पिछले 1 साल से दोनों ने खुद को घर के भीतर ही बंद कर लिया।

मंदिर के पुजारी से लेती थी प्रसाद और लंगर

घर के साथ में बने श्री चित्रगुप्त मंदिर के पुजारी कन्हैया कौशिक ने बताया कि दोनों में से एक ही बहन उनसे बात करती है। दूसरी बहन को न कभी देखा और न ही उसकी कभी आवाज सुनी है। एक बहन खिड़की से कहती है कि पंडित जी प्रसाद दे देना।

जब उसे प्रसाद, लंगर आदि देने जाते हैं, तो वह मामूली सा ही दरवाजा खोलती है और प्रसाद लेकर फिर बंद कर देती है। घर के भीतर कुछ नहीं दिखता है, क्योंकि दरवाजा बंद है। वहीं, एक युवती खिड़की से आवाज लगाकर पड़ोसियों से भी कभी-कभार कुछ खाने का मांग लेती थी। रेहड़ी चालक भी पपीता या अन्य कोई फल काट कर छोटे-छोटे टुकड़े कर के खिड़की के नीचे से पकड़ा देता था।

दो बहनें हैं डबल MA, मौत से पहले मां देख रही थी शादी के लिए रिश्ता

कमला ने बताया कि दोनों बहनों ने जब खुद कमाना शुरू किया तो फैमिली के अन्य सदस्यों से उनकी बोल-चाल कम हो गई थी। उनके पास आना-जाना भी कम हो गया था। दोनों बहनों ने डबल MA तक पढ़ाई की हुई है।

उनकी मां मौत से 2 महीने पहले तक भी दोनों बेटियों की शादी के लिए रिश्ता देख रही थी। वहीं, स्थानीय निवासियों ने बताया कि दोनों में से एक बहन की कुछ समय पहले गिरने से पैर में चोट लग गई थी। अब उसकी रीढ़ की हड्‌डी में भी चोट बताई गई है।