पशुओं को ब्रूसेलोसिस बीमारी से बचाव हेतू राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत चलाया जागरूकता अभियान : डॉ. योगिता रॉनोलिया

4 से 8 महीने के मादा पशुओं को बीमारी रोधक टीका लगवाने की ग्रामीणों से अपील

भूप एक्सप्रेस।

पानीपत। पशुओं में होने वाली ब्रूसेलोसिस बीमारी से बचाव के लिए राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम (एन ए डी सी पी ) के तहत 15 दिन का एक जागरूकता अभियान सरकार द्वारा चलाया जा रहा है | इस अभियान के तहत 4 से 8 माह की सभी बछड़ियों और कटड़ियों को टीका लगाया जा रहा है | जिला पानीपत के गाँव रिसालु में पशु अस्पताल में भी इसी कार्यक्रम के तहत मादा बछड़ी और कटड़ी को ब्रेसेलोसिस बीमारी से बचाने के लिए टीका लगवाया गया |

उक्त जानकारी देते हुए पशु चिक्त्सिक डॉ. योगिता रनोलिया ने बताया कि यह टीकाकरण अभियान इस वर्ष 3 चरणों में चलाया जाएगा, उसके बाद इनका ऑनलाइन पोर्टल इनॉफ पर पंजीकरण भी किया जाएगा | पहले चरण में 11 -12 हजार टीके लगाए जाएंगे | उन्होंने बताया कि ब्रूसेलोसिस बीमारी बहुत खतरनाक बीमारी है यह एक जीवाणु जनित बीमारी है जिसकी वजह से गर्भकाल के आखिरी के 3-4 महीने में गर्भपात हो जाता है। रॉनोलिया ने ब्रेसेलोसिस बीमारी को गंभीरता से लेने की बात कही क्योंकि यह बीमारी मात्र पशुओं में ही नहीं बल्कि पशुओं के सम्पर्क में आने से इंसानो में भी फ़ैल जाती है, जिससे काफी लंबे समय तक इस बीमारी से भुगतना पड़ता है | डॉ. योगिता ने ग्रामीण पशु पालकों से अपील की है कि जिनके घर 4 से 8 माह के मादा पशु है, वें उन्हें यह बीमारी रोधक टीका जरूर लगवाए और इस कार्यक्रम में विभाग और सरकार का साथ दे | साथ  में बी एल. डी. ए. नरेश शर्मा और एनिमल अटेंडेंट अक्षय कुमार मौजूद रहे।