65 साल की उम्र में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लेंगे कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में दाखिला

हरियाणा सीएम की नई शुरूआत जापानी भाषा सीखने की है इच्छा

भूप एक्सप्रेस।

चण्डीगढ़/नन्दपाल। जीवन के 65 बसंत देख चुके हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल अब कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी के छात्र बनने जा रहे हैं। उन्होंने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में जापानी भाषा के सर्टिफिकेट एंड डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लेने की इच्छा जाहिर की है और इस कोर्स में दाखिला लेने वाले वह पहले छात्र होंगे।

दरअसल, गुरुवार को मुख्यमंत्री कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के एल्युमनी एसोसिएशन द्वारा आयोजित ऑनलाइन/ऑफलाइन एल्युमनी मीट प्रतिस्मृति: पूर्व छात्र पुनर्मिलन 2021 कार्यक्रम से जुड़े थे, जिसमें यह रोचक बात भी सामने आई। बता दें कि परिवार में मनोहर लाल पहले सदस्य थे जिन्होंने 10वीं के बाद भी अपनी शिक्षा जारी रखी।पढ़ने में रुचि रखने वाले मनोहर लाल का सपना तो डॉक्टर बनने का था लेकिन पारिवारिक परिस्थितियों की वजह से उनका यह सपना पूरा नहीं हुआ। पारिवारिक पृष्ठभूमि किसान की थी और वे खेत से निकल कर पिता की बदौलत रोहतक के नेकीराम शर्मा राजकीय महाविद्यालय में दाखिला लेने में सफल हुए थे। मेडिकल कॉलेज में प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए वह दिल्ली तो पहुंचे, मगर परिस्थितियों के चलते इस मंजिल तक पहुंचने में विफल रहे। दिल्ली के सदर बाजार में कपड़े की दुकान, संघ की पाठशाला और साथ में दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन और संघ की गतिविधियों से हरियाणा के मुख्यमंत्री के पद तक का रास्ता उन्होंने कई तरह के उतार-चढ़ाव के साथ तय किया।

यह पहला मौका होगा जब हरियाणा का कोई सीएम कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी का छात्र होगा। बता दें हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से पहले दिल्ली के सीएम केजरीवाल के पास केयू की डिग्री है।