बिहार में दूसरे राज्यों से आती थी लड़कियां, आपत्तिजक हालत में 14 गिरफ्तार, दवाईयां भी जब्त

भूप एक्सप्रेस।
पटना। बिहार में एक बार फिर बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ है। पटना के बाद अब वैशाली जिले में पुलिस ने एक हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया है और मौके से ने 4 युवतियों और 10 युवकों समेत 14 लोगों को आपत्तिजनक हालात में गिरफ्तार किया है और कई सामान भी जब्त किए है। रैकेट चलाने वाली महिला अपने मायके में ही रहकर काम को अंजाम देती थी और उसका पति हाल ही में जेल से बाहर आया है। पुलिस की इस कार्रवाई के बाद गांव में कोहराम मच गया है।

मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस को सूचना मिली थी कि वैशाली जिले के सुदूर ग्रामीण क्षेत्र महुआ में सेक्स रैकेट चलाया जा रहा है। योजना बनाकर आज जैसे ही पुलिस ने यहां दबिश दी मौके से 14 युवक-युवतियों को आपत्तिजनक हालात में गिरफ्तार किया है और घर से कई आपत्तिजनक सामान और दवाईयां भी पुलिस ने बरामद की है। इसमें दो युवतियां कोलकाता की रहने वाली बताई जा रही हैं।हैरानी की बात तो ये है कि गांव वालों की नाक के नीचे इतना बड़ा रैकेट सालों से चलाया जा रहा था, लेकिन उन्हें कोई खबर नहीं थी।

जैसे ही उन्हें सूचना लगी उन्होंने तुरंत पुलिस को खबर की और भंडाफोड़ कर दिया। गिरफ्तार 10 युवकों में राजीव राय माधोपुर दिगमरुआ समस्तीपुर, मो. अख्तर, वैशाली जिले के गोविंद साहनी मौदह बुजुर्ग पातेपुर, अविनाश राय महुआ सिंहराय पूर्वी, शक्ति कुमार करीहो महुआ, मनीष कुमार शादीपुर बंगरा समस्तीपुर, अमित कुमार चांदसराय महुआ एवं वहीं का सचिन कुमार एवं विकास राय महुआ स्टेट बैंक के निकट के रहने वाले हैं। महुआ थानाध्यक्ष कृष्णा नंद झा ने बताया कि पूरे मामले की जांच की जा रही है।

बता दे कि हाल ही में बिहार की राजधानी पटना के एग्जीबिशन रोड स्थित होटल दयाल में पुलिस ने छापेमारी करते हुए आपत्तिजनक हालत में 7 युवतियों, होटल संचालक समेत 16 लोगों को गिरफ्तार किया था। हैरानी की बात तो ये है कि ग्राहकों के लिए लड़कियां दूसरे राज्यों से फ्लाइट्स (Flights) से बुलवाई जाती थी और लड़कियों के फोटो (Whatsapp Photo) पर दिखाए जाते थे उसके बाद 6 हज़ार से लेकर 18 हज़ार तक रेट तय होते थे और संचालक लडकियों को 3500 रुपए देता था।