BPHO ट्राइसिटी चण्डीगढ़ बनी स्वायत्त निकाय : डॉ अजय प्रजापति

 

भूप एक्सप्रेस।

चंडीगढ़। भारतीय प्रजापति हीरोज आर्गेनाइजेशन (BPHO) ट्राइसिटी चण्डीगढ़ अब स्वायत्त निकाय के रूप में कार्य करेगी। संस्था से लम्बे समय तक सदस्यता शुल्क को जिला कार्यकारिणी से लेकर राष्ट्रीय कार्यकारिणी तक विभाजन के प्रस्ताव की असहमति के चलते स्वायत्त निकाय के रूप में कार्य करेगा।
ट्राइसिटी चण्डीगढ़ के सयोंजक डॉ अजय प्रजापति ने बताया के पिछले 3 वर्षो से लगभग संस्था के बैनर तले कार्यरत था। जिसमे समय समय पर राष्ट्रीय स्तर के पद अधिकारियों को सुझव देता रहा है कि जिला स्तर पर जो सदस्यता शुल्क एकत्रित होगा उसका कुछ भाग आप जिलाकार्यकरिणी के लिए संरक्षित करे जिससे भिवष्य में समाज उठान में जमीनी स्तर पर मजबूती मिल सके।
राष्ट्रीय संस्था दावा करती है के हम पूरे भारत मे लगभग कार्यरत है और जिला स्तर की बात की जाए तो लगभग पूरे भारत वर्ष में लगभग हर जिले के महासचिव, प्रदेशाध्यक्ष, एवम कोषाध्यक्ष मिला कर कुल 15 से 20 सदस्यों की स्वधानिक कार्यकारिणी बनती है और उनके द्वारा जमा करवाया गया शुल्क राष्ट्रीय स्तर के एकाउंट में जमा ह्योग। जिसका एकाधिकार गलत होगा। और निचली कार्यकारिणी बिना वित्तिय सहयोग के कार्य करने में अशक्षम होगी।
इसके अलावा उन्होंने कहा कि वित्तीय सहयोग के व्यय हेतु भी संस्था के सविधान में कोई भी नियम/शर्तो की पालिसी नही बनाई गई है। जिससे पारदर्शिता पर भी सवाल बना हुआ है। इसलिए ट्राइसिटी चण्डीगढ़ भविष्य में इन बातों का ध्यान रखते हुए स्वायत्त निकाय के रूप में कार्य करेगा।