समालखा मे सील किए शराब गोदाम से शराब चोरी के मामलें मे और एक आरोपित को सीआईए-टू ने किया काबू

आरोपित प्रवेश निवासी इसराना एक वर्ष से था फरार 

भूप एक्सप्रेस।

समालखा/पानीपत। सीआईए-टू प्रभारी इंस्पैक्टर वीरेंद्र ने जानकारी देते हुए बताया 28 अप्रैल 2020 को एक्साईज विभाग के अधिकारी राजेश रोहिल्ला (एईटीओ) ने थाना समालखा मे शिकायत दे बताया था की विभाग द्वारा एक फर्म को एलवन एबी समालखा का लाईसैंस दिया गया था । जिसको अनियमितता पाए जाने पर 22 सितंबर 2016 लाईसैंस केंसिल कर गोदाम को शील कर दिया गया था। शील गोदाम से अप्रैल 2018 मे शराब चोरी हो गई थी जिस संबध मे थाना समालखा मे मुकदमा भी दर्ज करवाया गया था। एक बार फिर गोदाम से शराब चोरी होने बारे उन्हे गुप्त सूचना मिली तो उन्होनें गोदाम पर जाकर देखा तो पीछे का शटर उखड़ा हुआ मिला जो अज्ञात आरोपी गोदाम से शराब चोरी कर ले गये । राजेश रोहिल्ला (एईटीओ)  की शिकायत पर चोरी की विभिन्न धाराओं के तहत थाना समालखा मे मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाही अमल मे लाई गई थी ।

इंस्पैक्टर वीरेंद्र ने बताया वारदात मे संलिप्तता पाए जाने पर अभी तक 21 आरोपितों को सीआईए-टू पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। मामलें मे आरोपित प्रवेश पुत्र टेकराम निवासी इसराना पानीपत एक वर्ष से फरार चल रहा था। आरोपित को पकड़ने के लिए सीआईए-टू की टीम लगातार उसके संभावित ठिकानों पर दंबिश दे रही थी । वेदपाल ठिकानें बदल-बदल कर रह रहा था। आरोपित प्रवेश को गुप्त सुचना के आधार पर मंगलवार को सीआईए-टू पुलिस टीम ने ट्रक युनियन नजदीक मलिक पेट्रोल पंप जीटी रोड़ से काबू करने मे कामयाबी हासिल की। गिरफ्तार आरोपित प्रवेश को माननीय न्यायालय मे पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया।