खंड प्रेरक डॉ महावीर सैनी की अध्यक्षता में गांव ऊझा में हुआ “स्वच्छता समिति” का गठन

ग्रामीणों ने स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण अभियान को सफल बनाने का दिलाया विश्वास

भूप एक्सप्रेस।
पानीपत(नंदपाल)। जिला के बापौली ब्लाक के गांव ऊझा में आंगनवाडी कार्यकर्ता एवं आशा वर्करों तथा गांव के गणमान्य लोगों के सहयोग से एक ग्रामसभा का आयोजन किया गया जो कि स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण अभियान के खंड प्रेरक डॉ महावीर सैनी की अध्यक्षता में संपन्न हुई और गांव में एक “स्वच्छता समिति” का गठन किया गया।
डॉक्टर सैनी ने जानकारी देते हुए बताया कि मीनाक्षी को सर्वसम्मति से समिति प्रधान तथा सुशीला को उप प्रधान व स्वीटी को सचिव बनाया गया है। उन्होंने कहा कि समिति के सदस्य गांव में “स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण अभियान” के तहत ग्रामीणों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने का काम करेगी तथा गांव में स्कूल, आंगनवाड़ी केंद्र, गलियां, नालियां, नाले, सामूहिक शौचालय तथा गांव की फिरनी पर साफ सफाई का विशेष ध्यान रखवाएगी।


उन्होंने सभा में उपस्थित ग्रामवासियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आप सभी के सहयोग से ही ये अभियान सफल हो सकता है। इसका फायदा आप सभी गांव वालों को ही होगा। इसलिए सभी मिलकर सरकार द्वारा चलाए जा रहे इस स्वच्छता अभियान को गांव के जन जन तक पहुंचाने का काम करें। उन्होंने SSG2021 नाम की एपके बारे में तथा उसको अपने स्मार्ट फोन में डाउनलोड करने व फीड बैक देने के बारे में भी समझाया। डॉ. सैनी के विचारों से प्रभावित हो सभा में उपस्थित ग्रामीणों ने अपने दोनों हाथ खड़े कर विश्वास दिलाया कि इस मिशन को गांव में सम्पूर्ण रूप से सफल बना कर पूरे जिले में सबसे बढ़िया काम करके दिखाएंगे। इसी बीच नवनियुक्त प्रधान मीनाक्षी ने जल बचाओ तथा गिले व ठोस तथा सूखे कचरे के बारे में हानि एवं उनसे उठाए जाने वाले फायदों के बारे में प्रकाश डाला। इस अवसर पर शीला, सीमा, पूजा, सुमन, मीना, पिंकी, शंकर वर्मा और संदीप वर्मा आदि उपस्तिथ रहे।